happy women's day quotes wishing

कुछ लोग कहते हैं कि औरत का कोई घर नहीं होता है लेकिन सच तो ये है कि औरत के बिना कोई घर नहीं होता है।

वह जन्म देती है, वह मौत से बचाती है, वह आगे बढ़ाती है, वह औरत कहलाती है।

कोई भी देश यश के शिखर पर तब तक नहीं पहुंच सकता जब तक उसकी महिलाएं कंधे से कन्धा मिला कर ना चलें।

मुस्कराकर, दर्द भुलाकर…. रिश्तों में बंद थी दुनिया सारी, हर पग को रोशन करने वाली … वो शक्ति हैं एक नारी

अपने हौसले से तकदीर को बदल दूं, सुन ले दुनिया, हाँ मैं औरत हूं।

अबला नादान नहीं हूं। दबी हुई पहचान नहीं हूं।। मैं स्वाभिमान से जीती हूं। रखती अंदर ख़ुद्दारी हूं।। मैं आधुनिक नारी हूं.

औरत इज्जत की भूखी होती है, प्यार-मोहब्बत करने वाले को शायद भूल जाए,पर इज्जत करने वालों को कभी नहीं भूलती.

औरत इज्जत की भूखी होती है, प्यार-मोहब्बत करने वाले को शायद भूल जाए,पर इज्जत करने वालों को कभी नहीं भूलती.

कोई भी देश यश के शिखर पर तब तक नहीं पहुंच सकता जब तक उसकी महिलाएं कंधे से कन्धा मिला कर ना चलें।

कोई भी देश यश के शिखर पर तब तक नहीं पहुंच सकता जब तक उसकी महिलाएं कंधे से कन्धा मिला कर ना चलें।